0%
3

All The Best

All The Best


Created on

Physics

GRAVITATION

GRAVITATION TEST - 04

1 / 20

The earth revolves around the sun in one year. If distance between them becomes double, the new time period of revolution will be :-
पृथ्वी का सूर्य के चारों ओर परिक्रमण काल एक वर्ष है। यदि इनके बीच की दूरी दोगुनी हो जाती है, तो नया परिक्रमण काल होगा :

2 / 20

The relay satellite transmits the television programme continuously from one part of the world to another because its :
एक " प्रसारण उपग्रह" टेलिविजन के कार्यक्रमों को निरंतर विश्व के एक भाग से दूसरे भाग में प्रसारित करता है क्योंकि इसका :

3 / 20

Near the earth's surface time period of a satellite is 1.4 hrs. Find its time period if it is at the distance '4R' from the centre of earth :-
पृथ्वी सतह के पास एक उपग्रह का आवर्त काल 1.4 घण्टे है। पृथ्वी के केन्द्र से 4R' दूरी पर इसका आवर्तकाल ज्ञात करो:

4 / 20

The orbital velocity of an artificial satellite in a circular orbit just above the earth’s surface is v0. The orbital velocity of satellite orbiting at an altitude of half of the radius is :-
पृथ्वी सतह से ठीक ऊपर वृत्तीय कक्षा में क्रत्रिम उपग्रह का कक्षीय वेग v है। त्रिज्या की आधी ऊचाई पर घूर्णन कर रहे उपग्रह का कक्षीय वेग होगा :

5 / 20

A satellite is orbiting earth at a distance r. Variations of its kinetic energy, potential energy and total energy, is shown in the figure. Of the three curves shown in figure, identify the type of mechanical energy they represent.
एक उपग्रह पृथ्वी से r दूरी पर कक्षीय गति कर रहा है। इसकी गतिज ऊर्जा, स्थितिज ऊर्जा व कुल ऊर्जा में परिवर्तन चित्र में दर्शाया गया है। तीनों द्वारा प्रदर्शित यांत्रिक ऊर्जा के प्रकार को पहचानिये :

6 / 20

If the satellite is stopped suddenly in its orbit which is at a distance radius of earth from earth's surface and allowed to fall freely into the earth. The speed with which it hits the surface of earth will be :
यदि एक उपग्रह जो पृथ्वी की सतह से पृथ्वी की त्रिज्या के बराबर ऊँचाई पर घूम रहा है, को अपनी कक्षा में अचानक रोक दिया जाता है। और पृथ्वी में स्वतंत्र रूप से गिरने के लिए स्वतंत्र है, तो पृथ्वी की सतह पर टकराते समय इसकी चाल क्या होगी:

7 / 20

Two artificial satellites of masses m1 and m2 are moving with speeds v1 and v2 in orbits of radii r1 and r2 respectively. If r1 > r2 then which of the following statements in true :-
दो कृत्रिम उपग्रह जिनके द्रव्यमान m1 वm2 है v1 व v2 चाल से क्रमश:r1 व r2त्रिज्याओं की कक्षाओं में घूम रहे हैं। यदिr1> r2 है

8 / 20

What will be velocity of a satellite revolving around the earth at a height h above surface of earth if radius of earth is R :-
पृथ्वी की सतह से h ऊँचाई पर, इसके चारों ओर घूमते हुए एक उपग्रह का वेग क्या होगा, यदि पृथ्वी की त्रिज्या R है :

9 / 20

A satellite of mass m goes round the earth along a circular path of radius r. Let mE be the mass of the earth and RE its radius then the linear speed of the satellite depends on.
m द्रव्यमान का एक उपग्रह r त्रिज्या के वृत्ताकार पथ के अनुदिश पृथ्वी के चारों ओर चक्कर लगाता है। माना पृथ्वी का द्रव्यमान mE व त्रिज्या RE है निर्भर करेगी :

10 / 20

The minimum projection velocity of a body from the earth's surface so that it becomes the satellite of the earth (Re = 6.4 × 106 m).
पृथ्वी की सतह से किसी वस्तु को फेंकने का वह न्यूनतम वेग, जिससे वह पृथ्वी का उपग्रह बन जाए :(Rपृथ्वी = 6.4 × 106 m)

11 / 20

Two identical satellites are at the heights R and 7R from the earth's surface. Then which of the following statement is incorrect :– (R = Radius of the earth)
दो समान उपग्रह पृथ्वी की सतह से R तथा 7R ऊँचाई पर हैं, तो निम्न में से कौनसा कथन असत्य है : ( R = पृथ्वी की त्रिज्या)

12 / 20

The gravitational force between two bodies is directly proportional to \frac{1}{R} (not \frac{1}{R^{2}} ), where 'R' is the distance between the bodies. Then the orbital speed for this force in circular orbit is proportional to :-
दो पिण्डों के मध्य गुरुत्वाकर्षण बल \frac{1}{R} के समानुपाती है ( \frac{1}{R^{2}}के नहीं), जहां 'R' दोनों पिण्डों के बीच की दूरी है, तो वृत्तीय कक्षा में इस बल के लिए कक्षीय चाल समानुपाती होगी :

13 / 20

Orbital radius of a satellite S of earth is four times that of a communication satellite C. Period of revolution of S is :-
पृथ्वी के उपग्रहS की कक्षीय त्रिज्या, संचार उपग्रह C की चार गुनी है, तो S का परिभ्रमण काल होगा :

14 / 20

A planet of mass m is moving in an elliptical orbit about the sun (mass of sun = M). The maximum and minimum distances of the planet from the sun are r1 and r2 respectively. The period of revolution of the planet will be proportional to :
m द्रव्यमान का ग्रह सूर्य के चारों ओर दीर्घ वृत्ताकार कक्षा में गति कर रहा है। (सूर्य का द्रव्यमान = M) सूर्य से ग्रह की अधिकतम व न्यूनतम दूरी क्रमशः r1व r2 है। ग्रह का आवर्तकाल समानुपाती होगा :

15 / 20

Escape velocity for a projectile at earth's surface is Ve. A body is projected form earth's surface with velocity 2 Ve. The velocity of the body when it is at infinite distance from the centre of the earth is :-
पृथ्वी की सतह पर एक प्रक्षेप्य का पलायन वेग Ve है। एक वस्तु को पृथ्वी की सतह से 2Ve वेग से प्रक्षेपित किया जाता है। जब वस्तु पृथ्वी के केन्द्र से अनन्त दूरी पर है, तो वस्तु का वेग होगा

16 / 20

A satellite of mass m revolves in a circular orbit of radius R a round a planet of mass M. Its total energy E is :-
m द्रव्यमान का एक उपग्रह, M द्रव्यमान के ग्रह के चारों ओर R त्रिज्या की वृत्तीय कक्षा में घूम रहा है, तो इसकी कुल ऊर्जा E होगी :

17 / 20

For a satellite moving in an orbit around the earth, the ratio of kinetic energy to potential energy is :-
पृथ्वी के गिर्द घूमने वाले उपग्रह के लिए गतिज उर्जा और स्थितिज उर्जा का अनुपात होगा

18 / 20

Geostationary satellite :-
भू-स्थिर उपग्रह :

19 / 20

If a satellite is revolving very close to the surface of earth, then its orbital velocity does not depend upon:-
यदि एक उपग्रह पृथ्वी की सतह के निकट घूम रहा है, तो इसका कक्षीय वेग किस पर मुख्य रूप से निर्भर नहीं करता है:

20 / 20

A communication satellite of earth which takes 24 hrs. to complete one circular orbit eventually has to be replaced by another satellite of double mass. If the new satellites also has an orbital time period of 24 hrs, then what is the ratio of the radius of the new orbit to the original orbit ?
पृथ्वी का एक संचार उपग्रह एक पूर्ण वृत्ताकार कक्षा में घूर्णन में 24 घण्टे लेता है। इस उपग्रह के स्थान पर एक नया उपग्रह आ जाता है जिसका द्रव्यमान पहले वाले से दुगना है। यदि नये उपग्रह का आवर्त काल भी 24 घण्टे है, तो नये कक्ष व मूल कक्ष की त्रिज्या का अनुपात क्या होगा ?

Your score is

The average score is 85%

0%




Welcome to the online physics test series for the NEET & JEE entrance exam. On this page you can find chapter wise physics mock tests for the NEET & JEE  exam. Practicing physics questions is very important as it helps in clear the concepts over a period of time. With these NEET & JEE physics questions, you can get a boost in your confidence when it comes to problem-solving in physics.

  • The test is of 20-minutes duration and it contains 20 Questions.
  • Practicing such tests would give you added confidence while attempting your exam.
  • Why wait to take the test and get an instant evaluation.

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You cannot copy content