0%
9

All The Best


Created on

Physics

GRAVITATION

GRAVITATION TEST - 02

1 / 20

If Me is the mass of earth and Mm is the mass of moon (Me = 81 Mm). The potential energy of an object of mass m situated at a distance R from the centre of earth and r from the centre of moon, will be :-
यदि Me पृथ्वी का व Mm चन्द्रमा का द्रव्यमान हो m (Me = 81Mm ) तो पृथ्वी के केन्द्र से R दूरी व चन्द्रमा के केन्द्र सेr दूरी पर स्थित m द्रव्यमान के कण की स्थितिज उर्जा होगी।

2 / 20

Acceleration due to gravity at earth's surface is 'g' m/s2. Find the effective value of acceleration due to gravity at a height of 32 km from sea level : (Re = 6400 Km)
पृथ्वी की सतह पर गुरूत्व के कारण त्वरण 'g'm/s2 है। तल से 32 किमी ऊँचाई पर गुरुत्व का प्रभावी मान होगा: (Re = 6400Km)

3 / 20

Imagine a new planet having the same density as that of earth but its radius is 3 times bigger than the earth in size. If the acceleration due to gravity on the surface of earth is g and that on the surface of the new planet is g', then :
एक ऐसे नये ग्रह की कल्पना कीजिए जिसका घनत्व पृथ्वी के घनत्व के बराबर तथा उसका आकार पृथ्वी से तीन गुना है। यदि पृथ्वी की सतह पर गुरूत्व जनित त्वरण का मानg है की सतह पर g' है

4 / 20

If the rotational speed of earth is increased then weight of a body at the equator
यदि पृथ्वी की घूर्णन चाल को बढ़ा दिया जाये, तो भूमध्य पर वस्तु का भार :

5 / 20

The imaginary angular velocity of the earth for which the effective acceleration due to gravity at the equator shall be zero is equal to[Take g = 10m/s2 for the acceleration due to gravity if the earth were at rest and radius of earth equal to 6400 km.]
पृथ्वी का वह काल्पनिक कोणीय वेग ज्ञात कीजिये जिसके लिये भूमध्य रेखा पर प्रभावी गुरूत्वीय त्वरण शून्य हो जाय :(यदि पृथ्वी विरामावस्था में हो तो गुरूत्वीय त्वरण के लिये g = 10m/s2 लें तथा पृथ्वी की त्रिज्या 6400km लें ]

6 / 20

The gravitational potential energy is maximum at:
गुरूत्वीय स्थितिज ऊर्जा अधिकतम होगी :

7 / 20

Gravitational potential difference between surface of a planet and a point situated at a height of 20m above its surface is 2 J/kg. If gravitational field is uniform, then the work done in taking a 5kg body upto height 4 meter above surface will be :
20m ऊँचाई पर स्थित तथा उससे एक बिन्दु एक ग्रह की सतह एक के मध्य गुरूत्वीय विभवान्तर 2 J/kg है। क्षेत्र समान है, तो उसकी सतह से 4m ऊँचाई तक 5kg की वस्तु को ले जाने कार्य होगा :

8 / 20

A particle of mass m is moving in a horizontal ciricle of radius R under a centripetal force equal to –\frac{A}{r^{2}} (A = constant). The total energy of the particle is :- (Potential energy at very large distance is zero)
m द्रव्यमान का एक कण अभिकेन्द्रीय बल- \frac{A}{r^{2}}( A = नियत) के अधीन R त्रिज्या के क्षैतिज वृत्त में गति कर रहा है। कण की कुल ऊर्जा होगी (अनन्त पर PE = 0 माने)

9 / 20

Two different masses are droped from same heights. When these just strike the ground, the following is same :
दो विभिन्न द्रव्यमान के पिण्ड एक समान ऊँचाई से गिराए जाते हैं। और जब वे पृथ्वी से टकराते हैं तो निम्न में से समान होगा:

10 / 20

An artificial satellite moving in a circular orbit around the earth has a total (kinetic + potential) energy E0. Its potential energy is :-
पृथ्वी के चारों ओर वृत्ताकार मार्ग में घूमने वाले कृत्रिम उपग्रह की कुल ऊर्जा (गतिज + स्थितिज) E0 है। ऊर्जा होगी

11 / 20

A particle falls from infinity to the earth. Its velocity on reaching the earth surface is :
एक कण अनन्त से पृथ्वी पर गिर रहा है, तो पृथ्वी की सतह पर पहुँचने पर इसका वेग होगा।

12 / 20

A projectile of mass m is thrown vertically up with an initial velocity n from the surface of earth (mass of earth = M). If it comes to rest at a height h, the change in its potential energy is
m द्रव्यमान के एक प्रक्षेप्य को पृथ्वी (पृथ्वी का द्रव्यमान = M) से प्रारम्भिक वेग से ऊर्ध्वाधर ऊपर की ओर फेंका जाता है। यदि यह h ऊँचाई पर विरामावस्था में आता है तो इसकी स्थितिज ऊर्जा में परिवर्तन होगा :

13 / 20

Which of the following curve expresses the variation of gravitational potential with distance for a hollow sphere of radius R :
R त्रिज्या के एक खोखले गोले के लिये गुरूत्वीय विभव का दूरी के साथ परिवर्तन निम्न में से कौनसा वक्र :

14 / 20

The mass of the moon is 1% of mass of the earth. The ratio of gravitational pull of earth on moon to that of moon on earth will be :
चन्द्रमा का द्रव्यमान पृथ्वी के द्रव्यमान का 1% है। पृथ्वी के गुरूत्वीय खिंचाव तथा पृथ्वी पर चन्द्रमा के गुरूत्वीय खिंचाव का अनुपात होगा

15 / 20

The gravitational potential energy of a body at a distance r from the center of the earth is U. The force at that point is :
पृथ्वी के केन्द्र से दूरी पर एक पिण्ड की गुरूत्वीय स्थितिज उर्जा U है।

16 / 20

A body attains a height equal to the radius of the earth when projected from earth' surface. The velocity of the body with which it was projected is :
एक वस्तु को पृथ्वी की सतह से फैंकने पर यह पृथ्वी की त्रिज्या के बराबर ऊँचाई प्राप्त करती है। तो उस वस्तु का प्रक्षेपण वेग होगा :

17 / 20

A missile is launched with a velocity less than the escape velocity. Sum of its kinetic energy and potential energy is :-
एक मिसाइल, पलायन वेग से कम वेग से छोड़ी जाती है, तो इसकी गतिज ऊर्जा व स्थितिज ऊर्जा का योग होगा :

18 / 20

Weight of a body of mass m decreases by 1% when it is raised to height h above the earth's surface. If the body is taken to a depth h in a mine, then in its weight will
एक m द्रव्यमान की वस्तु का भार 1% घट जाता है जब इसे पृथ्वी की सतहसेh ऊँचाई पर ले जाया जाता है। यदि इस वस्तु को खान में h गहराई पर ले जाया जाये तो इसका भार :

19 / 20

Two small and heavy spheres, each of mass M, are placed a distance r apart on a horizontal surface. The gravitational potential at the mid-point on the line joining the centre of the spheres is :-
दो छोटे व भारी गोले (प्रत्येक का द्रव्यमान M) क्षैतिज सत परस्पर दूरी पर स्थित है। गोलों के केन्द्रों को जोड़ने वाली रेखा के मध्य बिन्दु पर गुरूत्वीय विभव है :

20 / 20

The change in the value of 'g' at a height 'h' above the surface of the earth is same as at a depth 'd'. If 'd' and 'h' are much smaller than the radius of earth, then which one of the following is correct?
पृथ्वी के 'g' के मान में सतह से 'h' ऊँचाई पर भी उतना ही परिवर्तन होता है जितना कि 'd' गहराई पर। यदि 'h' एवं 'd' पृथ्वी की त्रिज्या की तुलना में बहुत कम हो, तो निम्न में से सही सम्बन्ध है ?

Your score is

The average score is 51%

0%




Welcome to the online physics test series for the NEET & JEE entrance exam. On this page you can find chapter wise physics mock tests for the NEET & JEE  exam. Practicing physics questions is very important as it helps in clear the concepts over a period of time. With these NEET & JEE physics questions, you can get a boost in your confidence when it comes to problem-solving in physics.

  • The test is of 20-minutes duration and it contains 20 Questions.
  • Practicing such tests would give you added confidence while attempting your exam.
  • Why wait to take the test and get an instant evaluation.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content