JET ICAR Agronomy Questions Part-4

प्रष्न 381. चारे वाली फसलों का राजा कौन है।

उत्तर बरसीम।

प्रष्न 382. प्रजनक बीज की थैली पर किस रंग का टैक लगा रहता है:-
उत्तर सुनहरे पीले रंग का।

प्रष्न 383. बरसीम के चारे की पाचनशीलता कितनी होती है:-
उत्तर 70%

प्रष्न 384. आधार बीज का स्त्रोत है:-
उत्तर प्रजनक बीज/ब्रीडर बीज

प्रष्न 385. बरसीम का उत्पत्ति स्थल कहाॅ है:-
उत्तर एशिया माइनर के देश।

प्रष्न 386. प्रजनक बीज किसकी देखरेख में कृषि अनुसंधान केन्द्रों पर उत्पादन होता है:-
उत्तर पादप प्रजनक।

प्रष्न 387. बरसीम की ख्ेाती के लिये उपयुक्त जलवायु है:-
उत्तर शीतोष्ण।

प्रष्न 388. प्रजनक बीज से प्राप्त बीज क्या कहलाता है:-
उत्तर आधार बीज।

प्रष्न 389. बरसीम की समुचित वृद्धि हेतु उपयुक्त तापक्रम है।
उत्तर 25-26°C

प्रष्न 390. जौ, जई, धान, सोयाबीन, मूंगफली के आधार व प्रमाणित बीज उत्पादन करने हेतु पृथक्कररण दूरी कितनी रखते है:-
उत्तर 3×3 मी.

प्रष्न 391. बरसीम की बुवाई के समय कितना तापक्रम उपयुक्त रहता है:-
उत्तर 25°C

प्रष्न 392. धान, ज्वार, तिल, बरसीम, रिजका के बीजों मे न्यूनतम अंकरण क्षमता कितनी होनी चाहिये:-
उत्तर 80%

प्रष्न 393. आधार बीज का उत्पादन किसकी देखरेख में किया जाता है:-
उत्तर प्रमाणीकरण संस्था में।

प्रष्न 394. भारतीय चारागाह एवं चारा अनुसंधान संस्थान कहाॅ स्थित है:-
उत्तर साँझी।

प्रष्न 395. IGFRI द्वारा विकसित बरसीम की किस्म है:-
उत्तर S-99-1 (वरदान)

प्रष्न 396. राजस्थान के लिये बरसीम की उपयुक्त किस्म है:-
उत्तर BL-1 वरदान, T.B-1

प्रष्न 397. मक्का की संकुल किस्में विकसित करने हेतु आधार बीज/प्रमाणित बीज के लिए पृथक्करण दूरी कितनी रखते है।
उत्तर 400 मी. व 200 मी.

प्रष्न 398.  सामान्यतया बरसीम की बीज दर कितनी रखते है:-
उत्तर 25-30 kg/hac

प्रष्न 399. ज्वार के लिये शुष्क खेती की उपयुक्त किस्म है:-
उत्तर CSH-6, 14, SPV-96

प्रष्न 400. बरसीम की उन्नत किस्मों की ;बीज बड़ा होने के कारणद्ध बीजदर कितनी रखते है:-
उत्तर 35 kg/ है.

प्रष्न 401. कासनी के बीजों को बरसीम के बीजो से अलग करने हेतु बीजों को किसके घोल डालते है:-
उत्तर 5% नमक के घोल में।

प्रष्न 402. आधार बीज की आनुवांशिक शुद्धता कितनी होती है:-
उत्तर 98%

प्रष्न 403. बरसीम की बुवाई का उपयुक्त समय कौनसा हैः-
उत्तर अक्टूम्बर का प्रथम सप्ताह से अन्त तक।

प्रष्न 404. सबसे कम आनुवांशिक शुद्धता वाला बीज है:-
उत्तर प्रमाणित बीज।

प्रष्न 405. बरसीम की कतारेां में बुवाई करने पर पंक्ति से पंक्ति दूरी कितनी रखते है।
उत्तर 15-20 cm.

प्रष्न 406. संकर मक्का के बीज उत्पादन हेतु आधार/प्रमाणित बीज के बीच की पृथक्करण दूरी रखते है:-
उत्तर 600 व 300 मी.

प्रष्न 407. मूंगफली, ग्वार, सोयाबीन में न्यूनतम अंकुरण: होना चाहिये:-
उत्तर 70%

प्रष्न 408. गन्ने का वानस्पतिक नाम है:-
उत्तर सेकेरम आॅफिसिनेरम

प्रष्न 409. बरसीम की खड़ी फसल में कासनी खरपतवार के नियंत्रण हेतु कर सकते है:-
उत्तर डायनोसेल ऐसीटेट (W.P. 1.5 kg)

प्रष्न 410. बरसीम का खरपतवार कौनसा है:-
उत्तर कासनी

प्रष्न 411. आधार बीजों पर कौनसा टैंग लगा रहता है:-
उत्तर सफेद।

प्रष्न 412. गन्ना का कुल कौनसा है:-
उत्तर गे्रमनी।

प्रष्न 413. बरसीम की पहली कटाई करनी चाहिये:-
उत्तर बुवाई के 50-60 दिन बाद

प्रष्न 414. ज्वार के आधार बीज व प्रमाणित बीजोत्पादन हेतु पृथक्करण दूरी रखते है:-
उत्तर 200 व 100 मी.

प्रष्न 414. बरसीम की चारे की औसत उपज कितनी प्राप्त होती है:-
उत्तर 1000-1200 kg/hac.

प्रष्न 415.किसानों को उपलब्ध कराया जाने वाला बीज कौनसा है:-
उत्तर प्रमाणित बीज।

प्रष्न 415. SBI(गन्ना प्रजनक संस्थान) कहाॅ स्थित है:-
उत्तर कोयम्बटूर।

प्रष्न 416. अधिकांश वैज्ञानिकों के अनुसार गन्ने का उत्पत्ति स्थल कहाॅ माना जाता है:-
उत्तर भारत

प्रष्न 417. दोहदयलो, RSG-2, RS 888 किस फसल की शुष्कतारोधी किस्म है:-
उत्तर चना।

प्रष्न 418. विश्व का सर्वाधिक गन्ना कहाँ उगता है:-
उत्तर भारत

प्रष्न 419. प्रमाणित बीज का उत्पादन किसकी देखरेख में किया जाता है:-‘
उत्तर प्रमाणीकरण संस्था

प्रष्न 420. भारत के किस राज्य में सर्वाधिक गन्ना होता है:-
उत्तर U.P.

प्रष्न 421. भारत में बीज प्रमाणीकरण संस्था है:-
उत्तर NSC राष्ट्रीय बीज निगम।

प्रष्न 422. गन्ने के लिये उपयुक्त जलवायु है:-
उत्तर कटिबन्धीय।

प्रष्न 423. प्रमाणित बीजों की थैली पर किस रंग का टैंग लगा होात है:-
उत्तर नीले रंग का।

प्रष्न 424. गन्ने की फसल के लिये अंकरुण, बढ़वार व पपिक्वन अवस्था में आवश्यक पेमाना है:-
उत्तर 25-30°C, 32-37°C, 25-30°C

प्रष्न 425. चने के आधार बीज व प्रमाण्धित बीज उत्पन्न करने हेतु क्रमशः पृथक्करण दूरी रखते है:-’
उत्तर 10 मी. व 5 मी.

प्रष्न 426. केन्द्रीय गन्ना अनुसंधान संस्थान ;ब्ैत्प्द्ध स्थित है:-
उत्तर लखनऊ (U.P.) स्नबादवू

प्रष्न 427. राजस्थान में बीज प्रमाणित संस्था है।
उत्तर राजस्थान राज्य जैविक उत्पाद एवं बीज प्रमाणीकरण संस्था (RSSC)

प्रष्न 428. गन्ने के बीज हेतु कौनसा सिरा काम में लेते हे:-

उत्तर ऊपरी सीरा

प्रष्न 429. राजस्थान को कुल कितने सस्य जलवायु खण्डों में बांटा गया है।
उत्तर 10

प्रष्न 430. गन्ने का उपरी सिरा ही अंकुरित होने का क्या कारण है:-
उत्तर टाॅप डोमीनेंस।

प्रष्न 431. राजस्थन का सबसे बड़ा सस्य जलवायु खण्ड है:-
उत्तर IC बीकानेरद्ध

प्रष्न 432. गन्ने की अधिकतम पैदावार हेतु कितने सैट या टुकड़े बोते है:-
उत्तर 40.45 हजार/है. (60-70 kg भार)

प्रष्न 433. C-152, FS-68 किस्में किस फसल की शुष्क खेती के लिये उपयुक्त है:-
उत्तर चंवला।

प्रष्न 434. स्वामी केशवानन्द राजस्थान कृषि विश्वविद्यालय बीकानेर किस संस्य जलवायु खण्ड में स्थित है:-
उत्तर IC

प्रष्न 435. गन्ने के टुकड़ों को शीघ्र जड़ विकास हेतु उपचारित करते है:-
उत्तर 10 ppm N.A.A. से।

प्रष्न 436. राजस्थान के आर्द्र दक्षिणी पूर्वी मैदान (कोटा, बूंदी, झालावाड़) किस सस्य जलवायु खण्ड में स्थित है:-
उत्तर V

प्रष्न 437. शरदकालीन गन्ने की बुवाई का उपयुक्त समय कौनसा है:-
उत्तर 15 अक्टूबर।

प्रष्न 438. क्षेत्रफल की दृष्टि से भारत का सबसे बड़ा राज्य है:-
उत्तर राजस्थान

प्रष्न 439. बसंतकालीन गन्ने की बुवाई का उपयुक्त समय है:-
उत्तर 15 फरवरी से 15 मार्च

प्रष्न 440. पश्चिमी व पूर्वी राजस्थान में औसतन वर्षा कितनी होती है:-
उत्तर 10-30 सेमी व 50-100 सेमी.

प्रष्न 441. राजस्थान की वार्षिक वर्षा है:-
उत्तर 57.51 cm

प्रष्न 442. देश के कुल भौगोलिक क्षेत्र का राजस्थान कितने प्रतिशत क्षेत्र है:-
उत्तर 57.51 cm

प्रष्न 443. शुष्क कृषि में बीजदर कितनी रखते है:-
उत्तर 10-15%

प्रष्न 444. वर्षाकालीन गन्ना की बुवाई कब करते है:-
उत्तर जुन-जुलाई।

प्रष्न 445. सस्यावर्तन की दृष्टि से गन्ने की किस समय बुवाई की गई लाभकारी होती है:-
उत्तर शरदकालीन।

प्रष्न 446. राजस्थान में कृषि योग्य भूमि का कितना प्रतिशत भाग वर्षाकालीन है:-
उत्तर 5%

प्रष्न 446. गन्ने की बुवाई की सर्वोत्तम विधि कौनसी है।
उत्तर मेड़ व नाली विधि।

प्रष्न 447. राजस्थान के किस सस्य जलवायु खण्ड में हनुमानगढ़ व श्रीगंगानगर जिले शामिल है:-
उत्तर IB (100-800 mm)

प्रष्न 448. गन्ने की नाली या ट्रेन्च विधि में R×R दूरी कितनी रखते है:-
उत्तर 90 cm

प्रष्न 449. गन्ने की फसल हेतु छच्ज्ञ की मात्रा क्रमशः कितनी देते है:-
उत्तर 120-150 kg, 50-60 kg, 40 kg.

प्रष्न 450. गन्ने के अंकुरण से पहले की जाने वाली गुड़ाई क्या कहलाती है:-
उत्तर अन्धे गुड़ाई (पहली सिंचाई के बाद)

प्रष्न 451. गन्ने में की जाने वाली ऐसी क्रिया जिसमें इसके तनों को सुखी पत्तियों से ढ़क देते है, क्रिया को क्या कहते है:-
उत्तर प्रोपिंग।

प्रष्न 452. जयपुर किस सस्य जलवायु खण्ड में स्थित है:-
उत्तर III-A

प्रष्न 453. राजस्थान में मानसून काल कितने समय का होता है:-
उत्तर 40.80 दिन का

प्रष्न 454. भारत में किस मानसून से सर्वाधिक वर्षा होती है:-
उत्तर दक्षिणी-पश्चिमी।

प्रष्न 455. गन्ने का प्रमुख हानिकारक रोग कौनसा है।
उत्तर लाल सड़न रोग।

प्रष्न 456. शुष्क खेती में मृदा की जलधारण क्षमात बढ़ाने हेतु कितना टन 3 ;तीनद्ध वर्ष बाद कार्बनिक खाद डालना चाहिये।
उत्तर 10 टन।

प्रष्न 457. गन्ने की पकने की अवस्था पर इसका हेण्ड रीफ्रेक्टोमीटर का पाठयांक कितना होगा।
उत्तर 20

प्रष्न 458. के 851 पूसा वैशाखी, RMG-62 इत्यादि शुष्यकता रोधी किस्में किस फसल से सम्बन्धित है:-
उत्तर मूंग।

प्रष्न 457. गन्ने का कोल्हू व मशीन द्वारा रस निकालने पर रस क्रमशः कितना प्राप्त होता है:-
उत्तर 70% व 80-90%

प्रष्न 458.राजस्थान में कुल वार्षिक वर्षा 90ः से अधिक भाग किस माह में प्राप्त हा जाता है:-
उत्तर मध्य जून से मध्य सितम्बर।

प्रष्न 459. गन्ने की फसल की कटाई के बाद उसकी जड़ो से पुनः फुटना होने पर प्रापत की गई फसल कहलाती है:-
उत्तर रैटून या पेड़ी।

प्रष्न 460. उत्तरी भारत में गन्ने की उपज प्राप्त होती है:-
उत्तर 80.100 टन/hac

प्रष्न 461. गन्ने में गुड़ व चीनी का प्रतिशत क्रमशः होती है:-
उत्तर 11-12% व 10%

प्रष्न 462. विपरीत जलवायु के प्रति फसलों का बीमा क्या है:-
उत्तर मिश्रित फसलें।

प्रष्न 463. दक्षिण भारत में गन्ने की उपज/हैक्टर प्राप्त होती है:-
उत्तर 90-120 T/ध्हैक्टर

प्रष्न 464. मुख्य फसल के चारों ओर सुरक्षा हेतु बोयी गयी फसल कहलाती है:-
उत्तर रक्षक फसले।

प्रष्न 465. केन्द्रीय आलू अनुसंधान संस्थान स्थित है (CPRI)% –
उत्तर कुफरी, सोलन, हिमाचल प्रदेश (शिमला)

प्रष्न 466. फसलों को हेर-फेर कर इस प्रकार से बोना कि मृदा उर्वरता बनी व उत्पादन भी अधिक हो, कहलाता है।
उत्तर फसल चक्र।

प्रष्न 467. आलू का वानस्पतिक नाम क्या है:-
उत्तर सोलेनम ट्यूबरोसम

प्रष्न 468. आलू व तम्बाकू किस कुल से सम्बन्धित है:-
उत्तर सोलेनेसी।

प्रष्न 469. जौ कि शुष्क ख्ेाती हेतु उपयुक्त किस्म कौनसी है:-
उत्तर RD 31

प्रष्न 470. आलू के कन्द में कार्बोहाइट्रेट की मात्रा कितनी होती है:-
उत्तर 16-20%

प्रष्न 471. गन्ने की फसल के चारों ओर कुछ सनई की पंक्तियां बोना क्या कहलाता है:-
उत्तर रक्षक फसलें।

प्रष्न 472. ऐसा सस्य मिश्रण जिसमें फसलों के बीजों को बिना मिलाये अलग-अलग पंक्तियेां में बोते हे, कहलाती है:-
उत्तर सहचर फसलें।

प्रष्न 473. आलू का उत्पत्ति स्थल:-
उत्तर दक्षिणी अमेरिका।

प्रष्न 474. भारत के किस राज्य में सर्वाधिक आलू का उत्पादन होता है:-
उत्तर U.P.

प्रष्न 475. आलू के लिये उपयुक्त जलवायु कौनसी हैः-
उत्तर ठण्डी जलवायु।

प्रष्न 476. ऐसा सस्य मिश्रण जिसमें मुख्य फसल की उपज बढ़ाने हेतु अन्य गौण फसले मिला दी जाती है, कहलाती है:-
उत्तर सहायक या वृद्धि कारक फसले।

प्रष्न 477. उड़द की अच्छी बढ़वार कन्द हेतु तापक्रम है:-
उत्तर 24°C व 20°C

प्रष्न 478. ओजोन दिवस मनाया जाता है:-
उत्तर 16 सितम्बर।

प्रष्न 479. सोयाबीन की शुष्क खेती हेतु उपयुक्त किस्म कौनसी है:-
उत्तर NRC-137

प्रष्न 480. साधारणतया मृदा का ब्रूछ है:-
उत्तर 1 : 10

प्रष्न 481. सामान्य ताप हृास दर होती है:-
उत्तर 6-5° C

प्रष्न 482. मौसम का अध्ययन किसमें करते है:-
उत्तर मिट्रियोलोजी।

प्रष्न 483. आलू की एक हैक्टर फसल बोने हेतु कितने कन्दों की आवश्यकता होगी:-
उत्तर 25-30 क्वि/है. (3-5 cm आकार के)

प्रष्न 484. फोर्टीन बेरीमीटर द्वारा ज्ञात करते है:-
उत्तर वायुदाब।

प्रष्न 484. वायुमण्डल की किस परत में मौसम समबन्धी घटनाये होती है:-
उत्तर क्षोभमण्ड़ल

प्रष्न 485. आलू के बीज हेतु काम आने वाले कंद का आकार कितना होना चाहिए।
उत्तर 3-5 सेमी व 30-40 ग्राम भार।

प्रष्न 486. राजस्थान में चावल की खेती कौनसे क्षेत्र में प्रचलित है:-
उत्तर दक्षिणी पूर्वी।

 

error: Content is protected !!