0%
0

All The Best

All The Best


Created on

Physics

CURRENT ELECTRICITY

CURRENT ELECTRICITY TEST - 07

1 / 20

A ring is made of a wire having a resistance R0 = 12 Ω. Find the points A and B as shown in the figure at which a current carrying conductor should be connected so that the resistance R of the sub circuit between these points is equal to \frac{8}{3}\Omega
तार से बने एक वलय का प्रतिरोध Ro = 12Ω है। में ऐसे किन दो बिन्दुओं A और B पर धारावाही चालक को जोड़ा जाये ताकि, इन दो बिन्दुओं के बीच उप परिपथ का प्रतिरोध R = \frac{8}{3}\Omega हो :

2 / 20

A milivoltmeter of 25 milivolts range is to be converted into an ammeter of 25 amperes range. The value (in ohms) of necessary shunt will be :
एक मिली वोल्टमीटर का परास 25 मिली वोल्ट है। इसे 25 A परास के अमीटर में रूपान्तरित करना है। इसके लिये आवश्यक शन्ट का मान (ओम) में होगा :

3 / 20

The internal resistance of a 2.1 V cell which gives a current of 0.2 A through a resistance of 10 Ω is :-
2.1 V का एक सेल, 10Ω के बाह्य प्रतिरोध से 0.2 A धारा प्रवाहित करता है, तो इस सेल का आन्तरिक प्रतिरोध होगा

4 / 20

Two cities are 150 km apart. Electric power is sent from one city to another city through copper wires. The fall of potential per km is 8 volts and the average resistance per km is 0.5 Ω. the power loss in the wires is :-
एक नगर से विद्युत शक्ति को, 150km दूर स्थित एक अन्य नगर तक, ताँबे के तारो से भेजा जाता है। प्रति किलोमीटर विभव-पात 8 वोल्ट तथा प्रति किलोमीटर औसत प्रतिरोध 0.5Ω है,

5 / 20

A galvanometer of resistance, G, is shunted by a resistance S. To keep the main current in the circuit unchanged, the resistance to be put in series with the galvanometer is :-
किसी G प्रतिरोधी के धारामापी पर S ओम प्रतिरोध का शंट लगाया गया है। मुख्य धारा का मान अपरिवर्तित रखने के लिए धारामापी के श्रेणीक्रम में लगाये गये प्रतिरोध का मान होगा :

6 / 20

A wire of resistance 12 ohms per meter is bent to form a complete of circle of radius 10 cm. The resistance between its two diametrically opposite points, A and B as shown in the figure, is :-
122/m के एक तार को मोड़ कर 10cm त्रिज्या का एक वृत्त बनाया गया है। इसके व्यास के अभिमुख बिन्दुओं, A औ B, जैसेचित्र में दर्शाया हैं, के बीच के प्रतिरोध का मान होगा

7 / 20

In an ammeter 0.2% of main current passes through the galvanometer. If resistance of galvanometer is G, then resistance of ammeter will be :-
किसी अमीटर में मुख्य धारा का 0.2% भाग गैल्वेनोमीटर कुंडली से गुजरता है। यदि गैल्वेनोमीटर की कुंडली प्रतिरोध 'G' हैं तो, इस अमीटर का प्रतिरोध होगा :

8 / 20

A cell having an emf e and internal resistance r is connected across a variable external resistance R. As the resistance R is increased, the plot of potential difference V across R is given by :-
एक सेल का विद्युत वाहक बल (ई.एम.एफ.) e तथा आन्तरिक प्रतिरोध r है R के सिरों बीच जोड़ा गया है। यदि प्रतिरोध R का मान बढ़ाया जाय तो, R के सिरों के बीच विभवान्तर V का आलेख होगा :

9 / 20

If voltage across a bulb rated 220 volts 100 watts drops by 2.5% of its rated value, the percentage of the rated value by which the power would decrease is :-
एक विद्युत बल्ब की अनुमत वोल्टता तथा शक्ति क्रमशः 220 वोल्ट-100 वॉट है। यदि बल्ब के सिरों के बीच वोल्टता, इस अनुमत वोल्टता से 2.5% कम हो जाये तो, उसकी शक्ति में, अनुमत शक्ति के सापेक्ष कितने प्रतिशत की कमी होगी ?

10 / 20

Calculate the energy emitted by a bulb of 100 W in 1min :-
100W के एक बल्च द्वारा 1 मिनट में उत्सर्जित ऊष्मा होगी:

11 / 20

The power dissipated in the circuit shown in the figure is 30 watts. The value of R is :-
आरेख में दर्शाये गये परिपथ में शक्ति क्षय 30 वाट है। R का मान है:

12 / 20

A galvanometer having a coil resistance of 60 Ω shows full scale deflection when a current of 1.0 A passes through it. It can be converted into an ammeter to read currents upto 5.0 A by :-
एक गेल्वेनोमीटर के कॉयल का प्रतिरोध 60Ω है 1.0 ऐम्पियर धारा के लिये पूर्ण स्केल का विचलन दिया है। इसे 5.0 ऐम्पियर तक पढ़ने के ऐमीटर में बदलने के लिये :

13 / 20

See the electrical circuit shown in this figure. Which of the following equations is the correct equation for it ?
चित्र में दिखाये गये वैद्युत परिपथ के सम्बन्ध में निम्न समीकरणों में से कौनसा समीकरण सही है

14 / 20

A current of 2 A flows through a 2 Ω resistor when connected across a battery. The same battery supplies a current of 0.5 A when connected across a 9 Ω resistor The internal resistance of the battery is :-
किसी बैटरी से जुड़े 2Ω के प्रतिरोध में 2A विद्युत धारा प्रवाहित होती है। यदि बैटरी 9Ω के प्रतिरोध में 0.5A की धारा प्रवाहित करती है, तो बैटरी का आंतरिक प्रतिरोध होगा :

15 / 20

If power dissipated in the 9 Ω resistor in the circuit shown is 36 Watt, the potential difference across the 2 Ω resistor is :-
यदि दिये गये परिपथ आरेख में 9Ωप्रतिरोध में व्यय शक्ति 36 वाट है, तो 2Ω प्रतिरोध के सिरों के बीच विभवान्तर होगा :

16 / 20

The value of current i for the given circuit is :-
दिऐ गए परिपथ के लिये। का मान होगा :

17 / 20

A galvanometer has a coil of resistance 100 ohms and gives full scale deflection for 30 mA current. If it is to work as a voltmeter of 30 volt range, the resistance required to be added will be :-
किसी गेल्वेनोमीटर की कुंडली का प्रतिरोध 1002 है 30 mA की विद्युतधारा से इसके पूरे पैमाने (स्केल) पर विक्षेप होता है। यदि इसे 30 वोल्ट परास के वोल्टमीटर में परिवर्तित करना है तो कितना प्रतिरोध और लगाना (जोड़ना) होगा :

18 / 20

In the circuit shown the cells A and B have negligible resistances. For VA = 12 V, R1 = 500 Ω and R = 100 Ω the galvanometer (G) shows no deflection.The value of VB is :-
दर्शाये गये परिपथ में दो सेलों A तथा B का प्रतिरोध नगण्य है, जब VA = 12V , R1 500Ω तथा R = 100Ω है गैल्वेनोमीटर (G) में कोई विक्षेप नहीं होता, तो VB का मान है :

19 / 20

The resistance in the two arms of a meter bridge are 5 Ω and R Ω, respectively. When the resistance R is shunted with an equal resistance, the new balance point is at 1.6 \l1. The resistance ‘R’ is :-
किसी मीटर-सेतु की दो भुजाओं का प्रतिरोध 5Ω तथा RΩ, है जब प्रतिरोध R से समांतर (पाव) क्रम में R ओम का एक अन्य प्रतिरोध (शंट) लगा दिया जाता है तो नया संतुलन बिंदु 1.6 \l1 पर प्राप्त होता है। प्रतिरोध 'R' का मान होगा :

20 / 20

In the circuit shown in the figure, if the potential at point A is taken to be zero, the potential at point B is :-
दर्शाये गये परिपथ में, यदि बिन्दु A पर विभव को शून्य माना जाये तो बिन्दु B पर विभव होगा :

Your score is

The average score is 0%

0%




Welcome to the online physics test series for the NEET & JEE entrance exam. On this page you can find chapter wise physics mock tests for the NEET & JEE  exam. Practicing physics questions is very important as it helps in clear the concepts over a period of time. With these NEET & JEE physics questions, you can get a boost in your confidence when it comes to problem-solving in physics.

  • The test is of 20-minutes duration and it contains 20 Questions.
  • Practicing such tests would give you added confidence while attempting your exam.
  • Why wait to take the test and get an instant evaluation.

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You cannot copy content