0%
3

All The Best

All The Best


Created on

Physics

ELECTROSTATICS

ELECTROSTATICS TEST - 06

1 / 20

Figure given shows four arrangement of charged particles, all at the same distance from the origin. Rank the situations according to the net electric potentials (V1, V2, V3, V4) at the origin, most positive first :-
निम्न चार स्थितियों में आवेशित कण मूल बिन्दु से बराबर-बराबर दूरियों पर स्थित हैं। मूल बिन्दु पर कुल विद्युत विभव (V1, V2, V3, V4) के परिणाम को अधिकतम पहले लेते हुये इन्हें व्यवस्थित कीजिए

2 / 20

A particle is released from rest. in an electric field \vec{E} = 5kV /m\hat{i} . Initially particle is at (0, 0). When displacement in y-direction is 84 cm, then find displacement in x direction. [g = 9.8 m/s2 and \frac{q}{m}= 10 μC/kg]
एक कण को \vec{E} = 5kV/m\hat{i}के विद्युत क्षेत्र में विरामावस्था से मुक्त किया जाता है। प्रारम्भ में कण (0, 0) पर है। जब y-दिशा में विस्थापन 84 cm है। तो x दिशा में विस्थापन ज्ञात करें -[g = 9.8 m/s2 and \frac{q}{m}= 10 μC/kg]

3 / 20

A metallic shell has a point charge 'q' kept inside its cavity. Which one of the following diagrams correctly represents the electric lines of forces ?
किसी बिन्दु आवेश 'q' को एक धात्विक गोलीय कोश के अन्दर रखा गया है। निम्न में से कौनसा चित्र विद्युत बल रेखाओं की सही स्थिति प्रदर्शित करता है :

4 / 20

Five balls numbered 1 to 5 are suspended using separate threads. Pairs (1,2); (2,4) and (4,1) show electrostatic attraction, while pairs (2,3) and (4,5) show repulsion. The ball 1 may be :-
5 गेंदे 1, 2, 3, 4 व 5, एक दूसरे के निकट लटकायी गयी हैं, युग्म (1, 2) ; (2, 4) व (4, 1) परस्पर वैद्युत आकर्षण प्रदर्शित करते हैं तथा (2.3) व (4.5) परस्पर प्रतिकर्षण प्रदर्शित करते हैं तो गेंद 1 हो सकती है

5 / 20

An electron is moving round the nucleus of a hydrogen atom in a circular orbit of radius r. The Coulomb force \vec{F} on the electron is :-
एक इलेक्ट्रॉन, एक हाइड्रोजन परमाणु के नाभिक के चारों ओर एक r त्रिज्या की वृत्तीय कक्षा में घूम रहा है। इलेक्ट्रॉन पर कूलॉम बल \vec{F} होगा:

6 / 20

A circular wire loop of radius ‘r’ carries a total charge ‘Q’ distributed uniformly over its length. A small length dl of the wire is cut off. The electric field at the centre due to the remaining wire :-
त्रिज्या 'r' के एक वृत्तीय तार पर कुल आवेश 'Q' है लम्बाई पर एकसमान रूप से वितरित है। इसमें से अल्प लम्बाई dl का एक तार काटा जाता बाकी तार के कारण केन्द्र पर विद्युत क्षेत्र ज्ञात करो ?

7 / 20

Identical charges (– q) are placed at each corners of a cube of side 'b' then E.P.E. of a charge (+ q) placed at the centre of the cube will be :-
घन के सभी कोनों पर सर्वसम आवेश (q) रखे गये है। एक अतिरिक्त आवेश (+q) घन के केन्द्र पर रखा है तो इसकी वैद्युत स्थितिज ऊर्जा होगी :

8 / 20

Two concentric conducting thin spherical shells A, and B having radii rA and rB (rB > rA) are charged with charges QA and –QB (|QB| > |QA|). The electric field along a line, (passing through the centre) varies with distance x from the centre as :-
दोrA और rB त्रिज्याओं (rB> rA) के सहकेन्द्रिक पतले चालक गोलीय कोशों ( spherical shells) A और B को QA और -QB (|QB|> QA |) आवेश (चार्ज) दिया गया है। केन्द्र से गुजरती हुई रेखा के साथ-साथ (along) विद्युत क्षेत्र किस ग्राफ से अनुरूपित होगा :

9 / 20

A charge q is placed in the middle of two equal and like point charges Q. For this system to remain in equilibrium the value of q is :–
दो समान बिन्दुवत आवेश Q जो एक दूसरे से कुछ दूरी पर रखे हुये हैं को मिलाने वाली रेखा के मध्य में अन्य आवेश q रखा गया है होगा q के किस मान के लिए संतुलित

10 / 20

Two positive charges each of equal magnitude q are placed at a separation 2a perpendicular to X-axis. Another negative charge of mass m, is placed midway between the two charges on X–axis. If this charge is displaced from equilibrium state to a distance x(x << a), then the particle :–
समान मात्रा के दो आवेश q एक दूसरे से 2a दूरी पर रखे हैं। m द्रव्यमान का एक अन्य ऋणात्मक आवेश दोनों आवेशों के बीचों बीच X-अक्ष पर रखा है। यदि इस आवेश को सन्तुलन की स्थिति सेx x <<a) दूरी तक विस्थापित कर दिया जाये तो कण, सन्तुलन स्थिति -

11 / 20

Three charges Q, +q and +q are placed at the vertices of a right-angled isosceles triangle as shown in figure. The net electrostatic energy of the configuration is zero. Q is equal to :-
एक समकोण समद्विबाहु त्रिभुज के शीर्षो पर तीन आवेश Q, +q एवं +q चित्र में दर्शाये अनुसार रखे है। इस विन्यास की वैद्युत स्थितिज ऊर्जा शून्य होगी यदिQ का मान होगा :

12 / 20

A ball of mass 1g and charge 10–8 C moves from a point A (VA = 600 V) to a point B whose potential is zero. Velocity of the ball at point B is 20 cms–1. Velocity of the ball at point A is :–
1 ग्राम द्रव्यमान व 10-8C आवेश वाली एक गेंद बिन्दु A (VA = 600V) से बिन्दु B जिसका विभव शून्य है, तक जाती है। बिन्दु B पर गेंद का वेग 20 सेमी/से है A पर वेग होगा

13 / 20

A point charge q moves from point P to point S along the path PQRS (figure) in a uniform electric field E pointing parallel to the positive direction of the X-axis. The co-ordinates of the points P,Q,R and S are (a, b, 0), (2a, 0, 0), (a, –b, 0) and (0, 0, 0) respectively. The work done by the field in the above process is :-
बिन्दु आवेशq बिन्दु P से बिन्दु S के अनुदिश पथ PQRS पर चित्रानुसार एकसमान विद्युत क्षेत्र E मेंx-अक्ष की धनात्मक दिशा के समान्तर गति करता है। P,Q,R तथा S के निर्देशांक क्रमशः (a, b, 0), (2a, 0, 0), (a, -b, 0) तथा (0, 0, 0) है प्रक्रिया में क्षेत्र द्वारा किया गया कार्य होगा

14 / 20

Two equal negative charges each – q, are placed at points (0,a) and (0,–a) on Y- axis, A positive charge q is released from point (2a, 0). This charge will be :-
-q मान के दो समान आवेश y-अक्ष पर (0,a) तथा (0, a) बिन्दुओ पर रखे हुए है। यदि बिन्दु (2a, 0) पर स्थित +Q आवेश को गति के लिये स्वतंत्र कर दिया जाये तो वह आवेश :

15 / 20

Two positive point charges of 12 μC and 8 μC are 10 cm apart. The work done in bringing them 4 cm closer is :-
दो 12 μC व 8μC के धनात्मक बिन्दु आवेश 10 सेमी दूरी पर रखे हुए है। इनको 4 सेमी नजदीक लाने में किया गया कार्य होगा

16 / 20

Three charges –q1 , +q2 and –q3 are placed as shown in the figure. The x–component of the force on –q1 is proportional to :-
तीन आवेश -q1 +q2 तथा -q3 चित्रानुसार रखे है -q1 पर बल का x- घटक अनुक्रमानुपाती है।

17 / 20

If a charged spherical conductor of radius 10 cm has potential V at a point distant 5 cm from its centre, then the potential at a point 15 cm away from the centre will be :-
यदि 10 सेमी त्रिज्या वाले आवेशित चालक गोले के कारण उसके केन्द्र से 5 सेमी दूरी पर वैद्युत विभव V हो तो उसके केन्द्र से 15 सेमी दूरी पर वैद्युत विभव होगा

18 / 20

A sphere of 4 cm radius is suspended within a hollow sphere of 6 cm radius. The inner sphere is charged to a potential 3 e.s.u. When the outer sphere is earthed, the charge on the inner sphere is :-
एक 6 सेमी त्रिज्या के खोखले गोले में 4 सेमी त्रिज्या का एक गोला निलम्बित किया गया है, आंतरिक गोले को 3e.s.u. विभव तक आवेशित किया गया है जबकि बाहरी सतह भूसम्पर्कित है, तो आंतरिक गोले पर आवेश होगा

19 / 20

Two charges q1 and q2 are placed 30 cm apart, as shown in the figure. A third charge q3 is moved along the arc of a circle of radius 40 cm from C to D. The change in the potential energy of the sys- tem is \frac{q_{3}}{4\pi\epsilon _{0} }k, where k is :-
चित्र में दिखाये अनुसार दो आवेशों q1 और q2 को परस्पर 30 सेमी दूरी पर रखा है। एक तीसरे आवेश q3 को 40 सेमी त्रिज्या के वृत्त की चाप के रास्ते बिन्दु C से बिन्दु D तक ले जाया गया है। इस क्रिया में निकाय की स्थितिज ऊर्जा में परिवर्तन \frac{q_{3}}{4\pi\epsilon _{0} } हो तो k का मान होगा :

20 / 20

A solid metallic sphere has a charge + 3Q. Concentric with this sphere is a conducting spherical shell having charge –Q. The radius of the sphere is 'a' and that of the spherical shell is 'b' (b > a). What is the electric field at a distance R (a < R < b) from the centre ?
एक ठोस धात्विक गोले पर + 3Q आवेश है। यह गोला - Q आवेश वाले गोलीय कोश के संकेन्द्रीय है। गोले की त्रिज्या a तथा गोलीय कोश की त्रिज्या b (b > a) से R दूरी (a<R <b) पर विद्युत क्षेत्र कितना होगा ?

Your score is

The average score is 15%

0%




Welcome to the online physics test series for the NEET & JEE entrance exam. On this page you can find chapter wise physics mock tests for the NEET & JEE  exam. Practicing physics questions is very important as it helps in clear the concepts over a period of time. With these NEET & JEE physics questions, you can get a boost in your confidence when it comes to problem-solving in physics.

  • The test is of 20-minutes duration and it contains 20 Questions.
  • Practicing such tests would give you added confidence while attempting your exam.
  • Why wait to take the test and get an instant evaluation.

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You cannot copy content