JET ICAR Horticulture Questions Part-2

प्रष्न चूर्णी फफूंद का उपचार:-

उत्तर सोड़ियम मेचीफेरी नामक कवक से।

प्रष्न चूर्णी फफूंद का उपचार।
उत्तर गंधक/कैराथेन से।

प्रष्न पौधे में वृद्धि के स्वभाव को कहते है:-
उत्तर फ्लश

प्रष्न आम की किस्म है:-
उत्तर अर्का पूनीत।

प्रष्न आम का प्रवर्धन:-
उत्तर साॅफ्टवुड़ ग्राफ्टिंग।

प्रष्न नींबू राष्ट्रीय अनुसंधान केन्द्र स्थित है:-
उत्तर नागपुर में।

प्रष्न Lemon का B.N. है।
उत्तर सिट्स आरेन्टिफोलिया ।

प्रष्न नींबू का कुल:-
उत्तर रूटेसी

प्रष्न नींबू का उत्पत्ति स्थल।
उत्तर भारत।

प्रष्न नींबू के लिये जलवायु:-
उत्तर उष्ण व शीतोष्ण।

प्रष्न नींबू के लिये तापमान:-
उत्तर 16-32°C

प्रष्न भारत का प्रथम कृषि विश्वविद्यालय।
उत्तर जी. बी. पन्त कृषि एवं प्रौद्योगिकी विष्वविद्यालय पन्तनगर उत्तरांचल(1960)

प्रष्न CAZRI स्थित है,(Central Arid Zone Research Institute)
उत्तर जोधपुर (1959)

प्रष्न CIAH स्थित है, (Central Institute for Arid Horticulture)
उत्तर Bikaner (Raj.)

प्रष्न नींबू की उपज।
उत्तर 50-75 kg/पौधा।

प्रष्न संतरा का B.N. है:-
उत्तर सिट्स रेटिकुलेटा

प्रष्न संतरा का उत्पत्ति स्थान:-
उत्तर दक्षिणी चीन।

प्रष्न मैन्डरिन किस फल को कहते है:-
उत्तर संतरा।

प्रष्न संतरे के लिये जलवायु:-
उत्तर उष्ण व उपोष्ण

प्रष्न संतरे के लिये उपयुक्त तापमान:-
उत्तर 23-40°C

प्रष्न राजस्थान का नागपुर:-
उत्तर झालावाड़

प्रष्न भारत का नागपुर:-
उत्तर महाराष्ट्र (संतरा)

प्रष्न किन्नों होता है:-
उत्तर गंगानगर (पंजाब व राजस्थान)

प्रष्न संतरे से उपज:-
उत्तर 70-80kg/पौधा।

प्रष्न मालटा का B.N. है:-
उत्तर सिट्स साइनेसिस।

प्रष्न माल्टा का कुल:-
उत्तर रूटेसी।

प्रष्न माल्टा का उत्पत्ति स्थान:-
उत्तर चीन

प्रष्न विटामिन सी होता है:-
उत्तर माल्टा में।

प्रष्न माल्टा के लिये जलवायु:-
उत्तर 16-20°C

प्रष्न माल्टा की उपज:-
उत्तर 70-80kg/पौधा।

प्रष्न भारत में नींबू प्रजाति के फलों का स्थान है:-
उत्तर तीसरा

प्रष्न नींबू में व्यावसायिक प्रवर्धन विधि है:-
उत्तर गुट्ठी द्वारा।

प्रष्न ब्लडरेड किस्म है:-
उत्तर माल्टा की।

प्रष्न नींबू में कौनसा गुण पाया जाता है:-
उत्तर बहुभ्रूवता का।

प्रष्न कैला का B.N. है:-
उत्तर मूसा पेराडिसिएका।

प्रष्न केला का कुल :-
उत्तर मूजेसी

प्रष्न उत्पत्ति स्थान (केला)
उत्तर भारत

प्रष्न कदलीफल है:-
उत्तर केला

प्रष्न भारत में सर्वाधिक केला कहां होता है:-
उत्तर तमिलनाडू

प्रष्न राजस्थान में सर्वाधिक केला होता है:-
उत्तर बांसवाड़ा।

प्रष्न केला के लिए जलवायु:-
उत्तर आर्द्र व उष्ण कटिबन्धीय।

प्रष्न केले के लिये तापमान कितना चाहिये:-
उत्तर 10-40°C

प्रष्न केले का प्रवर्धन किया जाता है:-
उत्तर अन्तः भूस्तारिों (सर्कस) द्वारा।

प्रष्न केला कितने दिनों बाद फल देने लगता हे:-
उत्तर 9-12 माह बाद

प्रष्न केले से उपज कितनी होती है:-
उत्तर 30-50 टन/हैक्टेयर।

प्रष्न पनामा विल्ट (म्लानि) रोग किससे होता है:-
उत्तर फ्यूजेरियम आॅक्सीरपोरम क्यूबेन्स।

प्रष्न शीर्ष गुच्छा रोग किससे होता है:-
उत्तर पन्टोलोमिया निग्रोनर्वोसा नामक माहु कीट द्वारा।

प्रष्न केले के लिये pH मान
उत्तर 6-7

प्रष्न केला-रोपण में दूरी रखते है:-
उत्तर 3 मीटर

प्रष्न अमरूद का वानस्पतिक नाम:-
उत्तर सीड़ियम ग्वाजावा।

प्रष्न अमरूद का कुल:-
उत्तर मिर्टेसी।

प्रष्न अमरूद का उत्पत्ति स्थान:-
उत्तर मेक्सिकों

प्रष्न सर्वाधिक विटामिन C किसमें पाया जाता है:-
उत्तर आंवला में

प्रष्न अमरूद के लिये जलवायु।
उत्तर उपोष्ण एवं उष्ण जलवायु।

प्रष्न अमरूद की किस किस्म को सरदार अमरूद क नाम से जाना जाता है:-
उत्तर L-49

प्रष्न अमरूद का प्रवर्धन करते है:-
उत्तर बीज व वानस्पतिक विधियों द्वारा।

प्रष्न ICAR स्थित है,(Indian Council Agriculure Research)
उत्तर नई दिल्ली।

प्रष्न अमरूद का उक्ठा रोग किससे फैलता है:-
उत्तर फ्यूजेरियम आॅक्सीस्पोरम कवक द्वारा।

प्रष्न श्याम वर्ण रोग किससे फैलता है:-
उत्तर कोलेटोट्राइकम सिड़िआई कवक द्वारा।

प्रष्न IARI की स्थापना कहाँ हुई थी:-
उत्तर पूसा विहार में

प्रष्न अमरूद में प्रति पौधा उपज प्राप्त होती है:-
उत्तर 40-50 kg

प्रष्न अमरूद के पौधों में प्रवर्धन की व्यावसायिक विधि है:-
उत्तर पेच कलिकायन।

प्रष्न शीतकालीन फसलों की बुवाई करते है:-
उत्तर अगस्त-सितम्बर में।

प्रष्न ग्रीष्मकालीन फसलों की बुवाई करते है:-
उत्तर जनवरी-फरवरी।

प्रष्न मानव को प्रतिदिन कितने ग्राम कैल्शियम की मात्रा आवश्यक होती है:-
उत्तर 0.8 – 0.12 ग्राम

प्रष्न लोहा की कितनी मात्रा प्रतिदिन मनुष्य के लिये आवश्यक है:-
उत्तर 10-20 मिलीग्राम

प्रष्न विटामिन C किसमें पाया जाता है:-
उत्तर चेरी झ आॅवला झ नींबू वर्गीय फल

प्रष्न संसार का कितने: आम भारत में पैदा होता है:-
उत्तर 60%

प्रष्न मनुष्य को कितने ग्राम फलों का सेवन करना चाहिये:-
उत्तर 85 ग्राम

प्रष्न भारत में कितने ग्राम फलों का सेवन किया जा रहा है:-
उत्तर 8 ग्राम

प्रष्न भारत से केले का कितने: निर्यात किया जाता है:-
उत्तर 0.04%

प्रष्न भारत में फलो उत्पादन होता है:-
उत्तर 11%

प्रष्न भारत का कुल क्षेत्रफल का कितने: शुष्क क्षेत्र है:7
उत्तर 10%

प्रष्न राजस्थान का कितना भाग शुष्क क्षेत्र में आता है:-
उत्तर तीन चैथाई भाग (3/4 भाग)

प्रष्न बागों की भूमि का च्ण्भ्ण् मान होता है:-
उत्तर 6-8

प्रष्न फल विकास हेतु राजस्थान सरकार ने कब उधान निदेशालय की स्थापना कीः-
उत्तर 1989

प्रष्न आम की पाला प्रतिरोधी किस्में।
उत्तर लाभांश, बम्बई हरा, सफेदा एवं कजली।

प्रष्न द्विलिंगाश्रयी किस्में कौन-कौनसी है:-
उत्तर पपीता, खजूर, स्ट्राबेरी

प्रष्न सफेद लट का Zoological Name
उत्तर होलोट्रिकिया कोन्सेगुएना।

प्रष्न खरीफ की फसल का प्रमुख कीट:-
उत्तर सफेद लट

प्रष्न मूँगफली में सर्वाधिक क्षति पहुँचाने वाला कीट:-
उत्तर सफेद लट

प्रष्न टिड्डा का Zoological Name.
उत्तर हिराॅग्लाइफस निग्रोरेप्लेटस।

प्रष्न दीमक का Zoological Name
उत्तर आॅडेण्टोटर्मिस ओबेसस।

प्रष्न मिली बग का वैज्ञानिक:-
उत्तर ड्रांसिका मेंजिफेरी

प्रष्न आम का प्रमुख कीट:-
उत्तर मिलीबग

प्रष्न नींबू वर्गीय फलों में किस जीवाणु के कारण जीवाणु जनित रोग फैलता है:-
उत्तर जेन्थोमोनास स्विट्राई

प्रष्न विल्ट/उकठा रोग किस कवक द्वारा फैलता है:-
उत्तर फ्यूजेरियम आॅक्सीस्पोरम द्वारा।

प्रष्न पपीता तथा अननानास में होने वलाा प्रमुख रोगः-
उत्तर तना सड़न रोग (Stem rot)

प्रष्न तनासड़न रोग किस कवक द्वारा फैलता है:-
उत्तर पिथियम एफीडर्मेटम।

प्रष्न उल्टा सूखा रोग कहा जाता है:-
उत्तर डाइबैक रोग को

प्रष्न मनुष्य को प्रतिदिन कितने ग्राम सब्जी खानी चाहिये:-
उत्तर 300 ग्राम

प्रष्न वर्तमान में भारत में प्रत्येक व्यक्ति सब्जी खाता है:-
उत्तर 80 ग्राम।

उत्तर फलों का प्रतिदिन सेवन कररहा है:-
प्रष्न 30 ग्राम

प्रष्न देश का प्रथम फल परिरक्षण कारखाना स्थापित किया गया:-
उत्तर मुम्बई (1935)

प्रष्न (CFTRI) केन्द्रीय खाद्य-प्रौद्योगिकी अनुसंधान संस्थान की स्थापना:-
उत्तर 1950 मैसूर कर्नाटक

प्रष्न खाद्य परिरक्षण विकास संस्थान की स्थापना:-
उत्तर 1958

प्रष्न अस्थाई परिरक्षण में नमक की मात्रा लेते है:-
उत्तर 6-8%

प्रष्न पोटेशियम मेटा बाई सल्फेट में परिरक्षक का कार्य करती है:-
उत्तर SO2 गैस

प्रष्न पोटेशियम मेटावाई सल्फेट का प्रयोग किया जाता है:-
उत्तर रंगहीन फलों में।

प्रष्न सोड़ियम बेन्जोएट को प्रयोग किया जाता है:-
उत्तर रंगीन पदार्थो में

प्रष्न सोड़ियम बन्जोएट का कितना चचउ परिरक्षक हेतु काम में लेते है:-
उत्तर 1000-2000 ppm.

प्रष्न पोटेशियम मेटा-बाई सल्फेट का कितना चचउ परिरक्षक काम में लेते है:-
उत्तर 300-700 ppm.

प्रष्न परिरक्षित पदार्थो में चीनी की मात्रा:-
उत्तर 65%

प्रष्न फलों को सुखाने हेतु जिस मशीन को काम में लेते है, कहते है:-
उत्तर डिहाइड्रेजर

प्रष्न सबसे बढ़िया जैम बनता है:-
उत्तर सेव की।

प्रष्न सबसे बढ़िया जैली बनती है:-
उत्तर अमरूद की।

प्रष्न विटामिन C का रासायनिक नाम है:-
उत्तर एस्कोरबिक अम्ल

प्रष्न कार्बोहाइड्रेट की मात्रा सर्वाधिक:-
उत्तर खजूर, केला

प्रष्न तुलसी के पौधे रोपाई करने हेतु आपसी दूरी रखते है:-
उत्तर 45×45 cm

प्रष्न ईसबगोल का उपयेागी भाग।
उत्तर बीज।

प्रष्न तुलसी का कुल:-
उत्तर लेबेएसी।

प्रष्न नीम का उत्पत्ति स्थान:-
उत्तर अरब देश।

प्रष्न राजस्थान में नीम की निम्बोली किस ऋतु में पकती है:-
उत्तर वर्षा हेतु में।

प्रष्न सनाथ/सोनामुखी की फलियों में कितने प्रतिशत सोनोसाइड पाये जाते है:-
उत्तर 4-5%

प्रष्न बायोडिजल के रूप में लेते है:-
उत्तर जेट्रोफा कर्कस।

प्रष्न ग्वारपाठे का रोपण किस माह में करते है:-
उत्तर July-August

प्रष्न जो वृक्ष दूसरे को पनाह देते है कहलाते है।
उत्तर पॅलिनाईस।

प्रष्न संतरे में कलिकायन के लिए किसका मूल वृन्त काम में लेते है।
उत्तर जट्टी खट्ठी व जगियरी, क्लिओप्टरा मेन्डेरीन व रंगफलाइन

प्रष्न ट्रायर सिण्ट्रेज व करना खट्टा , उपयुक्त सभी क्या है।
उत्तर अश्वगंधा की ऐसी जड़े जो ऊपरी भाग पतला छिलका व लम्बाई 1 cm व व्यास 1-1.5 cm

प्रष्न बउ स्टार्च अधिक किन्तु एल्कोहल कम हो तो पंजीकरण करेंगे।
उत्तर ग्रेड A

प्रष्न संतर के लिये कलिकायन हेतु मूलवृन्त कब तैयार करते है:-
उत्तर फरवरी माह

प्रष्न किसी भी खाद्य पदार्थ में कितने: एसिटिक अम्ल सूक्ष्म जीवों को मारकर परिरक्षण का कार्य करता है:-
उत्तर 2%

प्रष्न अश्वगंधा की नर्सरी तैयार की जाती है:-
उत्तर जुलाई-अगस्त में।

error: Content is protected !!