Please click on square box [ ] at right top corner for Full Screen




0%
3

All The Best

All The Best


Created on By aajkatopper

Physics

PHOTO ELECTRIC EFFECT TEST - 3

1 / 20

In photoelectric effect, the electrons are ejected from metals if the incident light has a certain minimum–
प्रकाश-विद्युत प्रभाव में धातुओं से इलेक्ट्रानों का उत्सर्जन होता है अगर आपतित प्रकाश निम्नलिखित में से एक के निश्चित न्यूनतम मान का होता है

2 / 20

The momentum of a photon of energy 1MeV in kg m/s, will be :-
1MeV ऊर्जा रखने वाले फोटॉन का संवेग kg m/s में होगा:

3 / 20

A photo-cell employs photoelectric effect to convert
फोटो- सेल में प्रकाश-विद्युत प्रभाव का प्रयोग होता है:

4 / 20

The work function of a surface of a photosensitive material is 6.2 eV. The wavelength of the incident radiation for which the stopping potential is 5V lies in the :-
एक प्रकाश सक्रिय पदार्थ के तल का कार्य फलन 6.2eV है। आपतित विकिरण जिसके लिये निरोधक विभव 5 वोल्ट होगा, का तरंग दैर्ध्य पड़ेगा :

5 / 20

When photons of energy hn fall on an aluminium plate (of work function E0), photoelectrons on maximum kinetic energy K are ejected. If the frequency of the radiation is doubled, the maximum kinetic energy of the ejected photoelectrons will be:-
जब hv ऊर्जा के फोटॉन ऐलुमिनियम की प्लेट (कार्य फलन E0) पर आपतित होते हैं तो उत्सर्जित प्रकाशिक इलेक्ट्रॉनों की अधिकतम गतिज ऊर्जा K होती है। यदि विकिरण की आवृत्ति को । दुगुना कर दिया जाए, तो उत्सर्जित प्रकाशिक इलेक्ट्रॉनों की अधिकतम गतिज ऊर्जा होगी

6 / 20

If an electron and a photon propagate with same wavelength, it implies that can they have the same:–
यदि एक इलेक्ट्रॉन तथा एक फोटॉन समान तरंगदैर्ध्य वाली तरंगों के रूप में संचरित हो तो इसका अर्थ है कि निम्नलिखित में से कौन दोनों के लिए समान होते हैं

7 / 20

An electron and a proton have the same De Broglie wavelength. Then the kineitc energy of the electron is :
एक इलेक्ट्रॉन तथा प्रोटोन की डी ब्रोग्ली तरंगदैर्ध्य समान है तो इलेक्ट्रॉन की गतिज ऊर्जा होगी :

8 / 20

If given particles are moving with same velocity, then maximum de-Broglie wavelength for :
यदि निम्न कण समान वेग से गति कर रहे हैं, तो किसकी डी-ब्रोग्ली तरंगदैर्ध्य अधिकतम होगी :

9 / 20

De Broglie equation for an electron shows is :
डी ब्रोग्ली समीकरण दर्शाती है।

10 / 20

If λp and λα be the wavelengths of protons and α-particles of equal kinetic energies, then
समान गतिज ऊर्जा के प्रोटॉनों तथा α-कणों की तरंगदैर्ध्य λp व λα है

11 / 20

Which of the following is true for photon :-
निम्न में से कौनसा विकल्प फोटॉन के लिये सही है

12 / 20

A proton is about 1840 times heavier than an electron. When it is accelerated by a potential difference of 1 kV, its kinetic energy will be :–
प्रोटोन इलेक्ट्रॉन से लगभग 1840 गुना भारी होता है। जब यह 1 kV विभवांतर द्वारा त्वरित होता है तो उसकी गतिज ऊर्जा होगी

13 / 20

If the mass of a microscopic particle as well as its speed are halved, the de Broglie wavelength associated with the particle will
एक सूक्ष्म कण के द्रव्यमान तथा चाल आधी है तो कण से सम्बन्धित डि-ब्रोगली तरंगदैर्ध्य

14 / 20

An electron, proton and alpha particle have same kinetic energy. The corresponding de-Broglie wavelength would have the following relationship
एक इलेक्ट्रॉन, प्रोटॉन व एल्फा कण की गतिज ऊर्जा समान है, इसके संगत डि-ब्रोगली का क्रम होगा?

15 / 20

An electron and proton are accelerated through same potential, then le/lp will be
एक इलेक्ट्रॉन व एक प्रोटोन को समान विभवान्तर से त्वरित करने पर ^e/xp का मान होगा

16 / 20

For a moving particle having kinetic energy E, the correct de Broglie wavelength is :
क्रिकेट की गतिशील गेंद के लिए डी ब्रोग्ली तरंगदैर्ध्य के बारे में सत्य कथन है :

17 / 20

According to De Broglie, wavelength of electron in second orbit is 10–9 metre. Then the circumference of orbit is :–
डी- ब्रोग्ली के अनुसार किसी कक्षा में इलेक्ट्रॉन के लिए डी-ब्रोग्ली तरंगदैर्ध्य 10-9 मीटर है, तो इलेक्ट्रॉन के लिए द्वितीय कक्ष की परिधी का मान क्या होगा :

18 / 20

Monochromatic light of frequency 6.0 × 1014 Hz is produced by a laser. The power emitted is 2 × 10–3 W. The number of photons emitted, on the average, by the source per second is :
एक लेसर द्वारा 6.0x1014 Hz आवृत्ति का एकवर्णी प्रकाश पैदा किया जाता है। उत्सर्जित शक्ति 2 x 10–3 W है। से प्रति सैकण्ड उत्सर्जित फोटानों की औसत संख्या होगी :

19 / 20

The De Broglie wavelength of an electron in the first bohr orbit is :
प्रथम बोहर कक्षा में स्थित इलेक्ट्रॉन से सम्बन्धित डी ब्रोग्ली तरंगदैर्ध्य होगी :

20 / 20

What will happen to De Broglie's wavelength if the velocity of electron is increased :
यदि इलेक्ट्रॉन का वेग बढ़ा दिया जाये तो सम्बन्धित डी ब्रोग्ली तरंगदैर्ध्य :

Your score is

The average score is 13%

0%




Welcome to the online physics test series for the NEET & JEE entrance exam. On this page you can find chapter wise physics mock tests for the NEET & JEE  exam. Practicing physics questions is very important as it helps in clear the concepts over a period of time. With these NEET & JEE physics questions, you can get a boost in your confidence when it comes to problem-solving in physics.

  • The test is of 20-minutes duration and it contains 20 Questions.
  • Practicing such tests would give you added confidence while attempting your exam.
  • Why wait to take the test and get an instant evaluation.

Leave a Comment

Your email address will not be published.

You cannot copy content