0%
1

All The Best


Created on

Physics

MAGNETIC EFFECT OF CURRENT AND MAGNETISM

MAGNETIC EFFECT OF CURRENT AND MAGNETISM TEST - 09

1 / 20

If θ1 and θ2 be the apparent angles of dip observed in two vertical planes at right angles to each other, then the true angle of dip θ is given by :-
यदि एक दूसरे से लम्बवत्, दो ऊर्ध्वाधर समतलों में प्रेक्षित आभासी नमन (नति) कोण θ1 तथा θ2 हैं नमन कोण θ का मान किस समीकरण से प्राप्त होगा :

2 / 20

An electron is moving in a circular path under the influence of a transverse magnetic field of 3.57 × 10–2 T. If the value of e/m is 1.76 × 1011 C/kg, the frequency of revolution of the electron is :-
3.57×10-2T तीव्रता के अनुप्रस्थ चुम्बकीय क्षेत्र के प्रभाव में एक इलेक्ट्रॉन वृत्तीय कक्षा में घूर्णन कर रहा है। यदि e/m का मान 1.76 x 1011 C/kg हो, तो इलेक्ट्रॉन के परिक्रमण की आवृत्ति होगी :

3 / 20

A 250-Turn rectangular coil of length 2.1 cm and width 1.25 cm carries a current of 85 µA and subjected to magnetic field of strength 0.85 T. Work done for rotating the coil by 180^{\underline{0}} against the torque is:-
250 फेरों वाली एक आयताकार कुंडली की लम्बाई 2.1 cm तथा चौ 1.25 cm है। 85PA की विद्युत धारा प्रवाहित हो रही है। इस पर 0.85 T तीव्रता का एक चुम्बकीय क्षेत्र आरोपित किया जाता है। तो, बल आघूर्ण के विरूद्ध इस कुंडली के 180^{\underline{0}} से घुमाने के लिये आवश्यक कार्य का मान होगा

4 / 20

A wire is turned into circles with 100 turns of radius 35 cm. What current should be passed through it to produce a magnetic field of 1T at its centre?
एक तार को 35 cm त्रिज्या तथा 100 फेरो वाले वृत्त के रूप में बदल दिया जाता है, तो इसके केन्द्र पर 1T चुम्बकीय क्षेत्र उत्पन्न करने के लिए प्रवाहित धारा होगी ?

5 / 20

A long straight wire of radius a carries a steady current I. The current is uniformly distributed over its cross-section. The ratio of the magnetic fields B and B', at radial distances \frac{a}{2} and 2a respectively, from the axis of the wire is :
त्रिज्या a के किसी लम्बे सीधे तार से काई स्थायी धारा प्रवाहित हो रही है। इस तार की अनुप्रस्थ काट पर धारा एकसमान रूप से वितरित है। तार के अक्ष से त्रिज्य दूरियों \frac{a}{2} और 2a पर क्रमशः चुम्बकीय क्षेत्रों B और B का अनुपात हैं

6 / 20

Biot-savart law is used to determine magnetic field. It is analogous to which law to determine electric field ?
चुम्बकीय क्षेत्र ज्ञात करने में बायो सावर्ट नियम के समकक्ष विद्युत क्षेत्र ज्ञात करने में कौन सा नियम है?

7 / 20

Find out magnetic field at point O ?
बिन्दु o पर चुम्बकीय क्षेत्र होगा :

8 / 20

A coil had 100 turns. The radius of each turn is 20 cm. An iron rod (μr = 35) is introduced inside it. Find the magnetic field at the centre when current in coil is 2 A.
एक कुण्डली में 100 फेरे है तथा प्रत्येक फेरे की त्रिज्या 20 cm है। एक लोहे ((μr =35) की छड़ को प्रविष्ट कराया जाता है। कुण्डली में 2 एम्पियर धारा प्रवाहित करने पर इसके केन्द्र पर चुम्बकीय क्षेत्र होगा -

9 / 20

Find net magnetic field at point P (L = 10 cm)
बिन्दु P (L = 10cm) पर कुल चुम्बकीय क्षेत्र होगा

10 / 20

A current carrying wire is in form of square loop of side length 10 cm. Current in wire is 5A. Find out magnetic field at center of loop.
एक तार जो कि वर्ग के आकार में व्यवस्थित है। उसकी भुजा 10 cm है 5A की धारा का प्रवाह है। उस वर्ग के केन्द्र पर चुम्बकीय क्षेत्र का मान होगा

11 / 20

A long solenoid has 100 turns/meter and a current of 3.5 A is flowing through it. If it is filled with material of relative permeability (μr = 20) then magnetic field within the solenoid will be?
एक लम्बी परिनलिका में 100 फेरे/मीटर है तथा इसमें होकर 3.5A की धारा प्रवाहित हो रही है। यदि इसे (μr = 20) वाली आपेक्षि चुम्बकशीलता वाले एक पदार्थ से भरा जाता है तो परिनालिका में चुम्बकीय क्षेत्र क्या होगा ?

12 / 20

A bar magnet is hung by a thin cotton thread in a uniform horizontal magnetic field and is in equilibrium state. The energy required to rotate it by 60° is W. Now the torque required to keep the magnet in this new position is :-
किसी एकसमान क्षैतिज चुम्बकीय क्षेत्र में एक पतले सूती धागे से लटकाया गया एक दंड चुम्बक साम्यावस्था में है। इसे 60° से घुमाने के लिए आवश्यक ऊर्जा W है। को इसी नयी स्थिति में बनाये रखने के लिए आवश्यक बल-आघूर्ण का मान होगा :

13 / 20

A long wire carrying a steady current is bent into a circular loop of one turn. The magnetic field at the centre of the loop is B. It is then bent into a circular coil of n turns. The magnetic field at the centre of this coil of n turns will be :-
किसी लम्बे तार से अपरिवर्ती विद्युत धारा प्रवाहित हो रही है। इस तार को एक फेरे के वृत्ताकार पाश (लूप) में मोड़ने पर इसके केन्द्र पर चुम्बकीय क्षेत्र का मान B है। तार को n फेरों की वृत्ताकार कुंडली में मोड़ दिया जाता है, तो इस n फेरों की कुंडली के केन्द्र पर चुम्बकीय क्षेत्र होगा:

14 / 20

A spirally coiled metallic wire is hanged from one end to a rigid support. Initially the wire has no current. Suddenly current is passed through the wire then it will :-
धात्विक कुण्डली के एक सिरे को दृढ़ सिरे से लटकाया जाता है प्रारम्भ में कुण्डली में कोई धारा नहीं है, अचानक कुण्डली में धारा प्रवाहित करने से कुण्डली में होगा

15 / 20

A thin diamagnetic rod is placed vertically between the poles of an electromagnet. When the current in the electromagnet is switched on, then the diamagnetic rod is pushed up, out of the horizontal magnetic field. Hence the rod gains gravitational potential energy. The work required to do this comes from
किसी विद्युत् चुम्बक के ध्रुवों के बीच प्रतिचुम्बकीय पदार्थ में धारा प्रवाहित की जाती है, तो वह छड़ क्षैतिज चुम्बकीय की एक पतली छड़ ऊर्ध्वाधर स्थित है। तब विद्युत् चुम्बक क्षेत्र से बाहर ऊपर की ओर धकेल दी जाती है। इस प्रकार यह छड़ गुरूत्वीय स्थितिज ऊर्जा प्राप्त करती है। ऐसा करने के लिए आवश्यक कार्य करता है

16 / 20

The magnetic susceptibility is negative for :
चुम्बकीय प्रवृत्ति ऋणात्मक होती है

17 / 20

Long wire of radius 5 mm carrying current 10A. Find magnetic field at 2 mm from axis of wire.
5mm त्रिज्या और 10A धारा वाले लम्बे तार की अक्ष से 2mm दूरी पर चुम्बकीय क्षेत्र है :

18 / 20

An arrangement of three parallel straight wires placed perpendicular to plane of paper carrying same current 'I along the same direction is shown in fig. Magnitude of force per unit length on the middle wire 'B' is given by :-
यहाँ आरेख में तीन समान्तर तारों की एक व्यवस्था दर्शायी गई है। ये तार इस पेपर (पृष्ठ) के समतल के लम्बवत् और सभी से T विद्युतधारा एक ही दिशा में प्रवाहित हो रही है। इन तीनों के बीच में स्थित, तार 'B' की प्रति इकाई लम्बाई पर लगने वाले बल का परिमाण होगा :

19 / 20

Which is ferromagnetic ?
इनमें से लोहचुम्बकीय है :

20 / 20

A solenoid has 2 × 104 turns/meter and has diameter 10 cm. An electron beam having K.E. 100 keV passes without touching walls of solenoid then find current in the solenoid. Electron beam make angle 30^{\underline{0}} with axis of solenoid.
एक परिनालिका का व्यास 10cm तथा इसमें 2 x 104 फेरे प्रति मीटर है। एक इलेक्ट्रॉन जिसकी गतिज ऊर्जा 100 keV एवं परिनालिका की अक्ष से 30^{\underline{0}} कोण बनाता है, परिनालिका को बिना स्पर्श करे सीधे बाहर निकल जाता है तो परिनालिका से प्रवाहित धारा होगी

Your score is

The average score is 0%

0%




Welcome to the online physics test series for the NEET & JEE entrance exam. On this page you can find chapter wise physics mock tests for the NEET & JEE  exam. Practicing physics questions is very important as it helps in clear the concepts over a period of time. With these NEET & JEE physics questions, you can get a boost in your confidence when it comes to problem-solving in physics.

  • The test is of 20-minutes duration and it contains 20 Questions.
  • Practicing such tests would give you added confidence while attempting your exam.
  • Why wait to take the test and get an instant evaluation.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You cannot copy content